Feeling Alone Shayari in Hindi

November 15th, 2018

Bahot tanha sa hoon mujhko bhi koi dost chahiye,
Jo dil ka haal sun le aur mujhko waqt de sake.

Meri ghazaloN ko na sirf sunta rahe muskuraa ke jo,
Wo in ghazal me chupe dard ko pahchaan bhii sake.

Guzar gaya wo zamaana jab apne dost they kaii, Read the rest of this entry »

 

Mai Ek Naari Hun

November 10th, 2018

मैं एक नारी हुँ प्रेम चाहती हूँ और कुछ नही…..

मैं एक नारी हूँ,मैं सब संभाल लेती हूँ
हर मुश्किल से खुद को उबार लेती हूँ

नहीं मिलता वक्त घर गृहस्थी में
फिर भी अपने लिए वक्त निकाल लेती हूँ

टूटी होती हूँ अन्दर से कई बार मैं
पर सबकी खुशी के लिए मुस्कुरा लेती हूँ

गलत ना होके भी ठहराई जाती हूँ गलत Read the rest of this entry »

 

Aaj ke Time ke Dashere ke Dohe

October 23rd, 2018

दशहरे पर दोहे
————-

1. जलता रावण देखकर, लोग मनाते हर्ष।
नए-नए रावण यहाँ, आ जाते प्रति वर्ष।।

2. कर पुतले को खाक वे, खुशी मनाते लोग।
पर खुद को देखें नहीं, कैसा है संयोग।।

3. थोड़ी सी है जिंदगी, रहो प्रेम के संग।
हम सबके व्‍यवहार से, रावण भी है दंग।।

4. जलता रावण पूछता, क्‍या तुममें है राम।
गर तुममें है राम तो, न आऊँ तिहारे धाम।।

5. अपने घर में बेटियाँ, नहीं सुरक्षि‍त आज।
इससे तो रावण भला, राखी सीता लाज।।

6. कितने रावण हैं यहाँ, आज हमारे बीच।
बनते हैं अंजान सब, अपनी आँखें मीच।।

7. रावण के संताप का, करने को संहार।
हरी प्रकट भू पर हुए, लिया राम अवतार।।

8. रावण बोला राम से, तुम्‍हें मुबारक जीत।
याद रखेंगे लोग अब, भ्रातृ-जनों की प्रीत।।

9. बलशाली था राम से, फि‍र भी खाई मात।
बहुत हुआ लाचार जब, पाला बदला भ्रात।।

10. राम चंद्रके हाथ से, थी मरने की चाह।
रावण ने सीता हरीं, पर नहिं किया विवाह।।

11. पावन सीता माँ रहीं, नहीं लाज की भंग।
रावण के इस त्‍याग से, असुर सभी थे दंग।

 

Gaon aur Sehar Shayari

October 22nd, 2018

तेरी बुराइयों को हर अख़बार कहता है,
और तू मेरे *गांव* को *गँवार* कहता है //

*ऐ शहर* मुझे तेरी *औक़ात* पता है //
तू *चुल्लू भर पानी* को भी *वाटर पार्क* कहता है //

*थक* गया है हर *शख़्स* काम करते करते //
तू इसे *अमीरी* का *बाज़ार* कहता है।

*गांव* चलो *वक्त ही वक्त* है सबके पास !!
तेरी सारी *फ़ुर्सत* तेरा *इतवार* कहता है //

*मौन* होकर *फोन* पर *रिश्ते* निभाए जा रहे हैं //
तू इस *मशीनी दौर* को *परिवार* कहता है //

जिनकी *सेवा* में *खपा* देते थे जीवन सारा,
तू उन *माँ बाप* को अब *भार* कहता है //

वो मिलने आते थे तो *कलेजा* साथ लाते थे,
तू *दस्तूर* निभाने को *रिश्तेदार* कहता है //

बड़े-बड़े *मसले* हल करती थी *पंचायतें* //
तु अंधी *भ्रष्ट दलीलों* को *दरबार* कहता है //

बैठ जाते थे *अपने पराये* सब *बैलगाडी* में //
पूरा *परिवार* भी न बैठ पाये उसे तू *कार* कहता है //

अब *बच्चे* भी *बड़ों* का *अदब* भूल बैठे हैं //
तू इस *नये दौर* को *संस्कार* कहता है //

 

Apna Le Tu Mujhe

October 21st, 2018

गीत बनूं तेरे होंठों का ,गुनगुना ले तू मुझे,
अश्क बनूं तेरी आंखों का ,बहा ले तू मुझे..

मुस्कुराहट बनूं लब पे तेरे ,खिलखिला ले तू मुझे,
ख्वाब बनूं तेरी आंखों में ,सजा ले तू मुझे..

खुशबू बनूं तेरी रूह की ,महका दे तू मुझे,
खो जांऊ मैं तुझमें ,अपनाले तू मुझे…

 

Beautiful Hindi Love Shayari

October 17th, 2018

Apni pyari ankhon mein chupa lo mujhko,
Mohabbat tum se hai, chura lo mujko.
Dhup ho ya sehra tera sath chalenge hum,
Yaqeen naa ho toh aazma lo mujhko.
Tere her dukh ko seh lenge hans ke hum,
Apne wajood ki chadar bana lo mujh ko. Read the rest of this entry »

 

Kaisa hai ye Purush Samaj

November 15th, 2017

आज मेरी माहवारी का दूसरा दिन है।
पैरों में चलने की ताक़त नहीं है,
जांघों में जैसे पत्थर की सिल भरी है।
पेट की अंतड़ियां
दर्द से खिंची हुई हैं।
इस दर्द से उठती रूलाई
जबड़ों की सख़्ती में भिंची हुई है।
कल जब मैं उस दुकान में Read the rest of this entry »

 

Zindagi Pyasi hi Reh Gayi

August 23rd, 2017

Pyas Lagi Thi Ghazab Ki Magar Pani main Zeher Tha,
Peeta To Mar Jata or Na Peeta To Bhi Mar Jata..
Yehi Do Masley Zindagi-Bhar na Hal Huway
Na Neend Puri Hui na Khwab Mukamil Huway..

Wakt ne Kaha Kash Thorra or Sabar Hota
Sabar ne Kaha Kash Thorra or Wakt Hota
Subha Subha Uthna Prrta Hai Khwab Kmany K Liye
Khwab Kmany Nikalta Hu Aaram Chorr Kr Read the rest of this entry »

 

Maa Ki Duayein

August 23rd, 2017

Mushkil Raaston Ka Khaatma Hone Laga Hai,
‘Maa’ Ki Duaaon ka Asar Hone Laga Hai..

Shayad Ab ‘Jeet’ Qareeb Hi Hai Mere,
Dekho, Dushman Mera Ab Rone Laga Hai..

Sab Kuch Mila Tujhe, Phir Bhi Kuchh Na Mila, Read the rest of this entry »

 

MeaningFul Quotes for good Life

June 16th, 2017

I love this, so I am sharing it with you!

Heavy rains remind us of the challenges in life. Never ask for a lighter rain, just pray to God for a better umbrella.. that is the attitude!

➖➖➖➖➖➖
Life is not about finding the right person, but creating the right relationship. It’s not how we care in the beginning, but how much we care till the very end.

➖➖➖➖➖➖ Read the rest of this entry »