Parents must read – Overtake

June 13th, 2017

A boy with his parents was travelling in their car. Father was driving and son was sitting in the back. Dad was driving his car very carefully because it was quite dear to him.

After a few minutes of travelling, a modern car overtook their car.
Son told Father, “Dad that car went ahead of us, please use accelerator to overtake that car”.
Dad replied smilling, “Son, it is not possible, our car is not capable of going that fast”. Read the rest of this entry »

 

Sabdhan – Thagne ka Naya Tarika

June 12th, 2017

सावधान : ठगने का नया तरीका :-
•••••••••••••••••••••••••••••••••

एक दिन जब मै ड्राइविंग करते हुए जल्दी-जल्दी ऑफिस जा रहा था,
एक फोन आया जिसमें मुझे 3 घंटे के लिए फोन स्विच ऑफ करने के लिए कहा गया और बताया कि 4G अपलोड करने के लिए यह जरूरी है.

थोड़ी देर बाद जब किसी जरूरी फोन करने के लिए मैंने फोन स्विच ऑन किया तो देखा कि कई मिस कॉल आए हुए हैं और उस में सबसे ज्यादा मेरे घर से कॉल आए थे.

मैंने तुरंत घर फोन किया तो देखा कि घर के सारे लोग घबराए हुए हैं.

मुझे मालूम पड़ा कि उनके पास एक कॉल आया था जिसमें मुझे किडनैप किये जाने की सूचना थी और एक अच्छी रकम फिरौती के रूप में मांगी गई थी. Read the rest of this entry »

 

Beti Khuda ka Anmol Tohfa – Must Read

June 12th, 2017

लड़कियों के स्कूल में आने वाली नई टीचर बेहद खूबसूरत और शैक्षणिक तौर पर भी मजबूत थी लेकिन उसने अभी तक शादी नहीं की थी…

सब लड़कियां उसके इर्द-गिर्द जमा हो गईं और मज़ाक करने लगी कि मैडम आपने अभी तक शादी क्यों नहीं की…?

मैडम ने दास्तान कुछ यूं शुरू की- एक महिला की पांच बेटियां थीं, पति ने उसको धमकी दी कि अगर इस बार भी बेटी हुई तो उस बेटी को बाहर किसी सड़क या चौक पर फेंक आऊंगा, ईश्वर की मर्जी वो ही जाने कि छटी बार भी बेटी ही पैदा हुई और पति ने बेटी को उठाया और रात के अंधेरे में शहर के बीचों-बीच चौक पर रख आया, मां पूरी रात उस नन्हीं सी जान के लिए दुआ करती रही और बेटी को ईश्वर के सुपुर्द कर दिया। Read the rest of this entry »

 

Mujhe Aajmane ki Zidd na Kar

June 9th, 2017

Tu Hawa K Hath Pe Chahaton Ka Diya Jalany Ki Zid na Kar
Ye Udas Logo Ka Sheher Hai Yaha Musukrany Ki Zid na Kar

Mein Hu Apno Ka Dssa Huwa, Mera Gham Hai Hadh Se Brrha Huwa
Mein Shiksta Ghar Ki Misal Hu Mere Pas Any Ki Zid na Kr

Abhi Laut Aa, Abhi Wakt Hai Abhi Jan Baki Hai Jism main
Tujhy Elam Hai Meri JAN Hai Tu, Mujhy Azmany Ki Zid na Kr.

From :: Mani-Ali

 

Shayari Sms by Sagar Shayar

June 8th, 2017

Bade Dino Ke Baad Yeh Lagta Hai Sagar
Ki Usne
Yaad Karke Bhi Bhula Diya Hai Mujhe

————————————-
Dard-E-Khanjar Seene Me Utar Kar Puchte Hai
Zalim
Kahi Chot To Nahi Aai..!!

————————————-
Kitna Bhi Dil Patthar Kar Le Soniye
Humse Juda Hokar
Kisi Ki Dulhan Banna
Itna Aasan To Nahi..

————————————-
Logo Ko Aksar Mohabbat Ke Fasano Me
Doobte Dekha Hai,
Agar koi Pyar kar Le,
To Yeh Jahan Ko Gawara Nahi Hota…..

————————————-
Kuch bato ko apni hi juwan se dur rakhte hain,
Suna hai Insan bhi apna dushman hota hai..

From: Sagar Shayar
nitendra.nittu@yahoo.in

 

Dagmagaye se hain aaj Kadam

June 8th, 2017

डगमाये से है कदम क्यू ना …
आज रंगीनियत की शाम लिख दूं
पाकेट में है रकम बेहिसाब
सोचता हूँ किस्मत ..क्यू ना
उस बेवफा के नाम लिख दु …
इल्ज़ामात है हम पर बहुत खामोशियों के .. क्यू ना
गुजरता हुआ एक सलाम उसके नाम कर दूं।
ब्या करती है कुछ दर्द उस घर की दीवारे पुरानी …क्यू ना
आज उनकी भी मरम्मत का कुछ इन्तेजाम कर दु
डगमाये से है कदम क्यू ना …
आज रंगीनियत की शाम लिख दूं
पाकेट में है रकम बेहिसाब
सोचता हूँ किस्मत ..क्यू ना
उस बेवफा के नाम लिख दु ..
From :: Hritesh Jaiswal

 

Bachpan par Hindi me Kavita

June 8th, 2017

टेढ़े मेढ़े रास्तों से चल …
पके आम खेतो से चुरा लाते है
रखवाली करती उस बुढिया की
प्यारी सी गालियाँ ,चल फिर आज सुन आते है।
पतंगो में नाम लिख अब तेरा मेरा
आसमा की सैर चल आज कर आते है
ज़ेब खर्ची के चारआने से
दूरदर्शन वाले चित्रहार के गानो पे
पिपरमेंट की शर्त
चल आज फ़िर लगाते है Read the rest of this entry »

 

Teri Meri Pyar Wali Mohabbat

May 19th, 2017

मेरी फिक्र में खुद को भूल जाती हो
और बेखबर हो मुझ को ये जताती हो।

होने लगती हो जिस पल दूर मुझसे
कसम से उस पल बहुत याद आती हो।

चाहती हो कितना, पूछू जब कभी तो
आँखों ही आँखों में सब कुछ बताती हो।

मोहब्बत में मेरी खुद को भुलाए बैठी हो
और दिल में अपने जज़्बात छुपाती हो॥

 

Mai Ishq E Mohabbat chahta hun

May 17th, 2017

तेरे इश्क़ की इंतिहा…

तेरे इश्क़ की इंतिहा चाहता हूँ;
मेरी सादगी देख क्या चाहता हूँ;

सितम हो कि हो वादा-ए-बेहिजाबी;
कोई बात सब्र-आज़मा चाहता हूँ;

ये जन्नत मुबारक रहे ज़ाहिदों को;
कि मैं आप का सामना चाहता हूँ;

कोई दम का मेहमाँ हूँ ऐ अहल-ए-महफ़िल;
चिराग़-ए-सहर हूँ, बुझा चाहता हूँ;

भरी बज़्म में राज़ की बात कह दी;
बड़ा बे-अदब हूँ, सज़ा चाहता हूँ।

 

Tum Sitam Bemishal Karte Ho

May 16th, 2017

दुःख देकर सवाल…

दुःख देकर सवाल करते हो;
तुम भी जानम! कमाल करते हो;

देख कर पूछ लिया हाल मेरा;
चलो कुछ तो ख्याल करते हो;

शहर-ए दिल में ये उदासियाँ कैसी;
ये भी मुझसे सवाल करते हो;

मरना चाहें तो मर नहीं सकते;
तुम भी जीना मुहाल करते हो;

अब किस-किस की मिसाल दूँ तुम को;
हर सितम बे-मिसाल करते हो।