Each Gives What He Has

March 27th, 2017

Loved this:
Back in the days when Germany was divided, a huge wall separated East and West Berlin.

One day, some people in East Berlin took a truck load of garbage and dumped it on the West Berlin side.

The people of West Berlin could have done the same thing, but they didn’t. Instead they took a truck load of canned goods, bread, milk and other provisions, and neatly stacked it on the East Berlin side.

On top of this stack they placed the sign:

*“EACH GIVES WHAT HE HAS”*

How very true! You can only give what you have.

What do you have inside of you? Is it hate or love?
Violence or peace?
Death or life?
capacity to build or capacity to destroy?

What have you acquired over the years?

*”EACH GIVES WHAT HE HAS”*

Think about it!

 

Aaj Kal ke Romiyo ko Pehchanne k Tariqe

March 25th, 2017

रोमियों को पहचानने का तरीका
.
निम्नलिखित गुणों में से चार गुण मिलने पर शोहदों को रोमियो घोषित किया जा सकता है…..
.
1- हर दिन ये पेट्रोल पम्प पर बीस रुपये का पेट्रोल भराते हैं।
2- ये गाड़ी चलाते समय एक साथ पूरा एस्सेलेरेटर लेकर और आधा क्लच दबाकर गाड़ी चलाते हैं।
3- ये बालिका विद्यालय अथवा महिला महाविद्यालय के आसपास दिन भर बिना किसी काम के सिगरेट के दुकान पर एक सिगरेट को तीन बार जलाकर पीते नजर आते हैं।
4- ये 60 रुपये की टी शर्ट और 120 रुपये की जीन्स जिस पर की लाल हरा नीला पीला रंग का ड्रैगन फूल पत्ते आदि बना होता है, धारण करते हैं और वह जीन्स इनके कमर पर टिकने का नाम नहीं लेती।
5- ये अधिकांशतः 45-50 किलोग्राम वजन के होते हैं लेकिन हाथ मे दो चार, पांच रुपये वाला रबर का लाल पीला फ्रेंडशिप बैंड एवं एक दो कड़े पहने होते हैं और दोनो हाथो को शरीर से थोड़ा दूर रखकर ऐसे चलते हैं मानो खपच्ची बंधी हो।
6- ये ज्यादातर निकृष्ट होते हैं और लड़की को पटाने के लिए अपने बहनों का इस्तेमाल करते हैं।
7- ये 50 रूपये वाला Ray ban चस्मा लगाते हैं l

 

Joke of Katiya and KashiNath on Jio Data Sim

March 25th, 2017

कातिया : काशिनाथ हमें खुशी हुई तुम्हारे msg पढ़कर,
तुम्हे भी खुशी होगी ये जानकर के आज के बाद तुम हमारे ग्रुप मे एड रहोगे।

काशिनाथ : ये तेरे बाप के पैसो का नेट नही है कातिया
msg भेजते है पैसो का नेट पेक करवा के,
हमारा ग्रुप Jio की सिम से बनाया हुआ नही

मुझे किसी Jio की जरूरत नहीं है कातिया

कातिया : कीड़े मकोड़े की तरह नेट का रीचार्ज करवाने से अच्छा है Jio की सिम से नेट चलाओ शेर की तरह

काशिनाथ : Jio की सिम लेके शेर भी कुत्ता बन जाता है कातिया

तु चाहता है कि Jio की सिम लेके मै भी कुत्ता बनकर रहूँ
free calling करु
फालतू के msg करु

कातिया : ऐसा ही समझो
तो क्या हुआ Jio सिम से free calling मिलेगी
free msg मिलेंगे।
free video calling भी कर सकते हो

काशिनाथ : Jio की सिम से नेट वो चलाता है जिसकी नेट पेक करवाने की ओकात नही होती,
नेट चलाने का इतना ही शोक है तो Jio सिम का सहरा लेना छोड दे, कातिया..

 

Funny Jio Data Hindi Poem Shayari

March 25th, 2017

हे जीयो के दिवानो जरा आँख में भर लो पानी
मुफ्त कॉल और डेटा की खत्म हो गई कहानी
जब तक था मुफ्त में डेटा तुम ने खूब करी मनमानी
अब लगेगा खुलकर पैसा कह रहे मुकेश अंबानी
हुआ घायल दिल बेचारा खतरे में पड़ी आजादी
जब तक था मुफ्त में डेटा पोस्टो की लाईन लगा दी
अब हुआ खत्म अब यह डेटा जेब हो गई खाली
फिर भी मोबाइल उठाकर दस दस पोस्टे डाली
अब गिर गए होस गंवा कर जब अंत समय है आया
मंडराने लगा मोबाइल पर काली घटा का साया
खुश रहना जीयो के दीवानो अब हम तो सफर करते हैं
अब बिना नैट के ही हम जीवन बसर करते हैं
कोई सिख कोई जाट मराठा कोई गोरखा कोई मद्रासी
जीयो के चक्कर में पड़ने वाला हर शख्स था भारतवासी
अब मत पड़ना चक्कर में इसलिए सुनो यह कहानी
करोडो़ को फंसाने वाला उसका नाम है मुकेश अंबानी

 

Sada Haste Muskurate raho Hindi Poem

March 5th, 2017

चलो उन राहों पे जिनपे कोई चला न हो
करो भला भले खुद का कोई भला न हो

मिलो सभी से हरदम मुस्कुराते हुए
तुमसे हंसकर चाहे कोई मिला न हो

हर फिक्र भुला के जियो इस तरह
सिर्फ खुशियां हों कोई मसअला न हो

हमदर्द बन के मिलो उस बागबां से Read the rest of this entry »

 

Dard or Uspar Meri Shayari

March 5th, 2017

पीर जब बेहिसाब होती है
शायरी लाजवाब होती है

इक न इक दिन तो ऐसा आता है
शक्ल हर बेनकाब होती है

चांदनी जिसको हम समझते हैं
गर्मी-ए-आफ़ताब होती है

शायरी तो करम है मालिक का
शायरी खुद किताब होती है

 

Mere Sehar me Insan Bahut Hain

February 20th, 2017

*खुशियाँ कम और अरमान बहुत हैं ।
*जिसे भी देखो परेशान बहुत है ।।

*करीब से देखा तो निकला रेत का घर ।
*मगर दूर से इसकी शान बहुत है ।।

*कहते हैं सच का कोई मुकाबला नहीं ।
*मगर आज झूठ की पहचान बहुत है ।।

*मुश्किल से मिलता है शहर में आदमी ।
*यूं तो कहने को इन्सान बहुत हैं ।।

 

Dil Se Dil Milao Shayari

February 19th, 2017

खुद को इतना भी मत बचाया कर,
बारिशें हो तो *भीग जाया कर*।

चाँद लाकर कोई नहीं देगा,
अपने चेहरे से *जगमगाया कर*।

दर्द हीरा है, दर्द मोती है,
दर्द आँखों से *मत बहाया कर*।

काम ले कुछ हसीन होंठो से,
बातों-बातों में *मुस्कुराया कर*।

धूप मायूस लौट जाती है,
छत पे *किसी बहाने आया कर*।

कौन कहता है दिल मिलाने को,
कम-से-कम *हाथ तो मिलाया कर*।

 

Excellent Heart Touching Poem by Gulzar

February 19th, 2017

Excellent poem by gulzar …touched heart ….

ऐ उम्र !
कुछ कहा मैंने,
पर शायद तूने सुना नहीँ..
तू छीन सकती है बचपन मेरा,
पर बचपना नहीं..!!

हर बात का कोई जवाब नही होता
हर इश्क का नाम खराब नही होता…
यु तो झूम लेते है नशेमें पीनेवाले
मगर हर नशे का नाम शराब नही होता…

खामोश चेहरे पर हजारों पहरे होते है
हंसती आखों में भी जख्म गहरे होते है
जिनसे अक्सर रुठ जाते है हम,
असल में उनसे ही रिश्ते गहरे होते है..

किसी ने खुदासे दुआ मांगी
दुआ में अपनी मौत मांगी,
खुदा ने कहा, मौत तो तुझे दे दु मगर,
उसे क्या कहु जिसने तेरी जिंदगी की दुआ मांगी…

हर इंन्सान का दिल बुरा नही होता
हर एक इन्सान बुरा नही होता
बुझ जाते है दीये कभी तेल की कमी से….
हर बार कुसुर हवा का नही होता !!!

– गुलजार

 

Jeevan ki Pathshala

February 7th, 2017

जीवन की पाठशाला

पता हे सोनू
कुछ गानों की कुछ लाइन्स को सुनते सुनते ही मैं अक्सर तेरे साथ बिताये कुछ किस्सों में खो जाता हूँ।

मैंने उन सभी गानों की एक प्लेलिस्ट भी तैयार कर ली हैं। अब मुझे जब भी तुझे अपने पास पाना होता हॆ ना तो मे उन गानों मे मग्न हो जाता हूँ और ऐसा लगता नही बल्कि ऐसा होता हॆ के तू मेरे पास ही होता हे
अभी के लिए बस एक बात याद दिला देता हूँ। तुझे मालूम हैं जब हम दोनों बस से एक बार आनँद विहार गये थे
अरे वो तुम्हारी दीदी की नंद की लड़की की शादी मे Read the rest of this entry »