2 Line Hindi Font Sayari Sms

बहुत कुछ कह दिया चुपके से उन लरज़ती आँखों ने,
कि कुछ जज़्बातों के लिए अल्फाज़ मुक्कमल नहीं होते..!

**************************
चलते रहेंगे क़ाफ़िले मेरे बग़ैर भी यहाँ.
एक तारा टूट जाने से, फ़लक़ सूना नहीं होता..!

**************************
कभी तो झूठ ही कह दो मेरे बिना अधूरे हो तुम,
ज़रा सी बात कहने में तुम्हारा क्या बिगड़ता है..!!

**************************
सौ दुशमन बनाए हमने, किसी ने कुछ ना कहा,
एक को हमसफर क्या बनाया, सौ उँगलियाँ उठ गई..!

**************************
नींद का बंटवारा कुछ यूँ हुआ मेरा “ऐ दोस्तों”
कुछ मोबाइल के हिस्से आयी और कुछ ख्वाबो के हाथ लगी..

Author: ShineMagic

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*