Anjana Shayari in Hindi

तुम फिर अनजाना कह जाना,
यु यादों की आगोशी में,
ना शोर जुबा का,
धडकनों की ख़ामोशी में,
तुम फिर नाम नया,
बेवफा कह जाना,
भूली वफा की मदहोशी में ,
तुम फिर यु तनहा कर जाना,
हर लम्हे की सरफरोशी में
तुम फिर अनजाना कह जाना,
यु यादों की आगोशी में,
From:- Hritesh Jaiswal

Author: ShineMagic

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*