Love Shayari in Hindi Font

अभी सूरज नहीं डूबा ज़रा सी शाम होने दो,
मैं खुद लौट जाउंगा मुझे नाकाम होने दो..
मुझे बदनाम करने का बहाना ढूँढ़ते हो क्यों,
मैं खुद हो जाऊंगा बदनाम पहले नाम होने दो! …

************************
एक आरज़ू सी दिल में अक्सर छुपाये फिरता हूँ,
प्यार करता हूँ तुझसे पर कहने से डरता हूँ..
कही नाराज़ न हो जाओ मेरी गुस्ताखी से तुम,
इसलिए खामोश रहके भी तेरी धडकनों को सुना करता हूँ ..

***************************
मैं कुछ लम्हे और उसके साथ चाहती हूँ,
आँखों में थम जाऐ वो बरसात चाहती हूँ…
सुना हैं मुझे बहुत चाहता है वो मगर,
मैं उसके लबो से एक बार इज़हार चाहती..!!

Author: ShineMagic

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*