Lovely Shayari for MAA

माँ‬ के लिए क्या ‪शेर‬ लिखूं,
माँ ने ‪#‎मुझे‬ खुद शेर बनाया‬ है !
“-”

माँ के अहसान की तादाद अगर कोई पूछे तो,
उस से कह दो के बरसात के कतरे गिन ले.!!
“-”

हर लम्हा मेरी धड़कन में धड़कती हो माँ तुम ,
मेरी नज़र में प्यार का कोई एक दिन नहीं होता
“-”

ठोकर लगती है जुबा पे तेरा नाम आता है माँ,
दर्द कम होता है और हौसला बढ़ जाता है माँ..
“-”

Wo lamha jab kisi ne MAA pukara muze…
Ek pal me main shakh se ghana darakht ho gayi…
- Humaira rehman

If you like this shayari, Please like and share on Facebook

 
   

Please Like MailShayari on Facebook

Mail Shayari on Facebook

Leave a Reply