Haryanvi Shayari for Girl

तू पंजाबन कुड़ी में देसी जाट हरियाणे का।
आजमा के देख हरियाणवी ने तने इसा छोरा ना पाणे का।
यारा के यार दुश्मना खातर हम तलवार ।
महफ़िल लगावा खेत में लाके हम पेग चार ।
तेरी यारी खातर होगया देसी जाट जान देंण ने तयार।
बात करके हरियाणवी ते तू भी मुटियारे हो जया बेकरार।
यु टेम जे चाल्या गया छोरी फेर वापिस ना आणे का।
आजमा के देख हरियाणवी ने तने इसा छोरा ना पाणे का।
लठ बजान में पहला नंबर ,पंचायत में हम समझोता करवा दे ।
बात प्यार ते मान जया तो ठीक नही तो हम साले ने कुण में ला दे।
बात करा सीधी ना काम कोई छिपाणे का ।
आजमा के देख हरियाणवी ने तने इसा छोरा ना पाणे का ।
हम भी ब्रांडेड छोरे फेर भी लोग कह दे देसी।
घुमन फिरण खातर ले राखी बुलेट,खेत खातर ट्रैकटर मेस्सी।
साफ करैक्टर तने देसी जाट जैसा ना पाणे का।
आजमा के देख हरियाणवी ने तने इसा छोरा ना पाणे का।

If you like this shayari, Please like and share on Facebook

 
   

Please Like MailShayari on Facebook

Mail Shayari on Facebook

Leave a Reply