Pati Patni or Golgappe (PaniPuri)

पत्नी – रात का खाना आज बाहर करेगें।

पति – ठीक है … हम किसी साधारण रेस्तरां में चलते हैं.
पत्नी – नहीं, रॉयल पैलेस होटल में चलते हैं.

पति – (एक मिनट के लिए मौन) ठीक है, 7 बजे चलते हैं.

ठीक सात बजे पति-पत्नी अपनी कार में घर से निकले. रास्ते में –

पति – जानती हो एक बार मैंने अपनी बहन के साथ पानीपूरी प्रतिस्पर्धा की थी. मैंने 30 पानी पूरी खाई और उसे हरा दिया.

पत्नी – क्या यह इतना मुश्किल है?
पति – मुझे पानी-पूरी प्रतियोगिता में परास्त करना बहुत मुश्किल है।

पत्नी – मैं आसानी से आपको हरा सकती हूँ।
पति – रहने दो ये तुम्हारे बस का नहीं ….

पत्नी – हमसे प्रतियोगिता करने चलिये….
पति – तो आप अपने आप को हारा हुआ देखना चाहती हैं?

पत्नी – चलिये देखते हैं…

वे दोनों एक पानी-पूरी स्टॉल पर रुके और खाना शुरू कर दिए ….

25 पानी पूरी के बाद पति ने खाना छोड़ दिया.

पत्नी का भी पेट भर गया था, लेकिन उसने पति को हराने के लिए एक और खा लिया और चिल्लाई , “तुम हार गये।”

बिल 50 रुपये आया …. और पत्नी वापस घर आते हुए शर्त जीतने की खुशी में खुश थी.

मधुकांत

“एक प्रबंधक का मुख्य उद्देश्य न्यूनतम निवेश के साथ कर्मचारी को संतुष्ट करना होता है…. कम निवेश पर मजबूत वापसी सुनिश्चित!”

If you like this shayari, Please like and share on Facebook

 
   

Please Like MailShayari on Facebook

Mail Shayari on Facebook

Leave a Reply