Ye Jaruri to Nahi

ज़िंदगी सभी को मिली…

ज़िंदगी सभी को मिली हो ये जरूरी तो नहीं;
हर किसी की चाहत पूरी हो ये जरुरी तो नहीं;
ज़िंदगी सभी को मिली हो…

आग गुलशन में बहारें भी लगा सकती है;
सिर्फ बिजली ही गिरी हो ये ज़रूरी तो नहीं;
ज़िंदगी सभी को मिली हो…

नींद तो दर्द के बिस्तर पर भी आ सकती है;
तेरी आगोश में ही सर हो ये ज़रूरी तो नहीं;
ज़िंदगी सभी को मिली हो…

If you like this shayari, Please like and share on Facebook

 
   

Please Like MailShayari on Facebook

Mail Shayari on Facebook

Leave a Reply